बिलासपुर में पैरोल पर छूटे हत्यारोपी ने पीट-पीट कर युवक को मार डाला, दोस्त के भाई की पड़ोसी से हुई थी मारपीट

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में जरा सी बात को लेकर हुए विवाद में एक युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। उसकी पड़ोसी युवक के साथ ठेला लगाने को लेकर मारपीट हुई थी। इसके बाद पड़ोसी के भाई ने पैरोल पर छूटे हत्यारोपी और अपने साथियों के साथ मिलकर युवक की जान ले ली। पड़ोसी युवक भी गंभीर हालत में सिम्स में भर्ती है। पुलिस ने वहां से मुख्य आरोपी सहित दो को गिरफ्तार कर लिया है। मामला सरकंडा थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, बंधवापारा, वार्ड-6 निवासी रवि दास मानिकपुरी पास में ही भगतसिंह स्कूल के पास खाने-पीने का ठेला लगाता है। पड़ोस में रहने वाला अमित मरकाम का भाई भी वहीं ठेला लगाता है। बताया जा रहा है कि 24 जनवरी को दोनों के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ और मारपीट हो गई। जिसके चलते अमित के भाई का हाथ फ्रैक्चर हो गया और उसे सिम्स में भर्ती कराया गया है। इसको लेकर थाने में FIR भी दर्ज कराई गई।

अगले दिन भाई का बदला लेने साथियों के साथ पहुंचा आरोपी
बताया जा रहा है कि अगले दिन 25 जनवरी को भाई से हुई मारपीट का बदला लेने के लिए अमित मरकाम अपने साथियों ईश्वर सारथी और 4-5 अन्य युवकों के साथ रवि दास के ठेले पर पहुंच गया। वहां लात-घूंसों से रवि की बुरी तरह से पिटाई की गई है। इसके बाद दोपहर करीब 12.30 बजे रवि घर लौट आया। थोड़ी देर बाद उठा और पत्नी और बच्चों को ससुराल छोड़ने के लिए भरारी चला गया। वहां उसकी तबीयत अचानक बिगड़ी और मौत हो गई।

पत्नी ने लगाया है मारपीट से मौत होने का आरोप
रवि दास की पत्नी सुशीला मानिकपुरी ने बताया कि मोहल्ले में ही रहने वाले ईश्वर और अमित ने मारपीट की थी। इसके चलते रवि को काफी तकलीफ हो रही थी। मायके छोड़ने के 15-20 मिनट बाद हाथ-पैर और सीने में दर्द के साथ जलन होने की शिकायत की। फिर बेहोश हो गए। परिजनों ने एंबुलेंस बुलाई, उन्होंने मृत घोषित कर दिया। एक आरोपी ईश्वर सारथी कुछ दिन पहले ही हत्या के मामले में जेल में बंद था। कुछ दिन पहले ही पैरोल पर छूटा है।