मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में मंत्रिगणों ने कोविड इलाज प्रबंधन के संबंध में दिए महत्वपूर्ण सुझाव

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित सभी संभागीय मुख्यालय में उपस्थित समाज प्रमुखों, जिला प्रशासन के अधिकारियों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों की बैठक में कैबिनेट मंत्रियों ने भी महत्वपूर्ण सुझाव दिए।

स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने बैठक में कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी नहीं है। आई.सी.यू. बेड की कमी है जिसे दूर किया जा रहा है। इलाज के लिए मानव संसाधन बढ़ाने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि यदि रेमडेसिवियर इंजेक्शन की उपलब्धता अन्य राज्यों में है, तो वहां से रेमडेसिवियर इंजेक्शन मंगाने की पहल की जानी चाहिए।

बैठक में गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने अपने सुझाव देते हुए कहा कि रायपुर में कोविड के इलाज को लेकर जो दबाव बन रहा है उसे कम करने के लिए जिलों में सुविधाएं बढ़ानी चाहिए। अधिक मूल्य में समान बेचने वाले व्यवसायियों पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। मास्क न पहनने वालों के विरुद्ध कार्यवाही की जानी चाहिए।

नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव डहरिया ने कहा कि ब्लॉक स्तर पर सीएचसी एवं पीएचसी के माध्यम से भी इलाज उपलब्ध कराया जाना चाहिए एवं बेड की संख्या बढ़ायी जानी चाहिए।

लोक स्वास्थ्य एवं यांत्रिकी मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने सुझाव देते हुए कहा कि निजी अस्पतालों में इलाज की दर का निर्धारण किया जाना चाहिए ताकि मरीजों से बेहिसाब राशि न ली जाए। बैठक में अन्य मंत्रीगणों ने भी अपने सुझाव दिए।